लखनऊ विश्विद्यालय: छात्र नेताओं के चुनाव के लिए रास्ता साफ


लखनऊ: हाइकोर्ट द्वारा लखनऊ विश्वविद्यालय  मे छात्र संघ  चुनाव पर रोक लगाने के लिए वर्ष 2012 मे याचिका दायर की गई थी ,जिसे अब खारिज़ कर दिया गया है।


जिससे अब छात्र चुनाव का रास्ता साफ हो गया है।


जज एम.एन भंडारी और वीके श्रीवास्तव ने हेमंत सिंह की याचिका पर आदेश दिया।याचिका के मुताबिक 2012 मे होंने वालेे चुनाव को लिंगदोह समिति की सिफारिश के तहत कराये जाने का आग्रह किया गया था।इस पर  कोर्ट ने 2012 के चुनाव पर रोक लगा दी थी।


छात्रों ने मनाया जश्न 


हाइकोर्ट की याचिका वापस लिए जाने के बाद लखनऊ विश्वविद्यालय में शुक्रवार को छात्रों और चुनावो दावेदारों मे हर्षोल्लास के मोहाल तथा मिठाई बटने का सिलसिला चला।


"छात्रों का कहना था जब परिसर मे कर्मचारियों और शिक्षक संघ के चुनाव पर रोक नही है तो फिर छात्र संघ चुनावों पर रोक क्यों लगाई गई थी।"


आयु गड़ना की तारीख पर दायर की गई थी याचिका जिसके अंतर्गत चुनाव लड़ने की नियंतम आयु 28 वर्ष है।